Tuesday, 6 August 2013

छोटी कविता : 9

छोटी कविता : 9

खाली दिन, खाली सारे पल
जैसे खाली यह जीवन।
कुछ काम करें
खाली दिन को भरें।
खाली जीवन को भरने
क्या भीड़ में जाएं?
और भी खाली होकर वापस आएं?

No comments:

Post a Comment