Sunday, 31 August 2014

छोटी कविता 19

छोटी कविता 19

इस मिलन को तुम मिलन का दर्जा न दो
तुम्हारा मिलना भी कोई मिलना था
अभी आए थे, लो अभी गए।

No comments:

Post a Comment