Thursday, 2 April 2015

कैलाश वाजपेयी

कैलाश वाजपेयी

उस समय मैं छोटी थी और मुझसे भी छोटी थी 'वह', युवा लेखिका, जिसके सभी लेखक मित्र उससे बहुत बड़ी उम्र के थे, तब उसने एक बात कही थी, शायद बचपने में, कि, 'ओह, मैं अपने सब मित्रों की मौत देखूँगी।' आज उसने कैलाश वाजपेयी की मौत भी देख ली. कैलाश वाजपेयी जी को मैं भी बहुत अच्छी तरह जानती थी और ज़ाहिर है, समानधर्मी होने के कारण अनेक बार उनसे मिली भी थी, लेकिन यह बात मुझे 'उसी' से पता चली थी कि कैलाश वाजपेयी जी एक विद्वान ज्योतिषविद भी थे. 'उस' के अनुसार वे इतना सही बताते थे कि हर कदम उनकी सलाह से उठाया जाए तो बेहतर हो. तब मैंने 'उस' से कहा कि मुझे कैलाश जी से मिलना है. लेकिन मिलना चाहते हुए भी मैं उनसे नहीं मिल पाई. और आज उनके निधन का समाचार मिला। 79 वर्ष की आयु में हार्ट अटैक से कल उनकी मृत्यु हुई. फेसबुक और अखबार से यह शोक-सन्देश मुझ तक पहुँचा लेकिन शायद किसी को नहीं पता था कि वे कवि, शिक्षाविद होने के साथ-साथ एक महान ज्योतिषाचार्य भी थे. कैलाश वाजपेयी जी, आपको मेरा शत-शत नमन.





No comments:

Post a Comment