Sunday, 15 May 2016

दर्द 1 Kavita 252

दर्द 1

दर्द बेवजह नहीं होता।

आस्तीन के साँप
ज़हर उगलने में कई बार सालों लगा देते हैं
तब तक हम उसे पालते-पोसते रहते हैं।

डरने की आदत नहीं होती
निश्चिन्त रहते हैं कि हम सुरक्षित हैं
सोचने की कोई वजह नहीं होती कि
हमारे किले में हमारा दुश्मन कौन है?
कौन तैयार बैठा है डसने के लिए?

इन साँपों के काटे का कोई इलाज नहीं
बस मरना ही मरना है।

No comments:

Post a Comment